How to become a human : “आदमी” बनने के लिए क्या करें?

दोस्तों,
“आदमी” बनना है तो क्या करें ……….बड़ा simple प्रश्न है परन्तु आइये जानते है वाकई “आदमी’ कैसे बना जा सकता है ….. जन्म के साथ ही आपको आपका शरीर (बॉडी) मिल जाता है चाहे आपको वह पसंद हो या न हो ,आप उसे चाहते हो या न चाहते हो …आपको बुरा लगे या अच्छा लगे ..यह आपका “शरीर” ही है जो सदैव आपके साथ रहेगा ,जीवन भर आपका साथ निभाएगा .. अब आपका जिस स्कूल में एडमिशन हो गया है उसका नाम “जीवन” है जहाँ आपको प्रत्येक दिन कुछ न कुछ सिखाया जायेगा चाहे आप सीखना चाहे या न चाहे ….आपको पसंद हो या न हो आपको जिंदगी “पाठ” पढ़ाएगी ही …. जिंदगी का “विकास” एक प्रयोग है जिसमे “प्रयास” और “गलती” दोनों हैं …. “विफलता” उस प्रयास का पार्ट है जो योजना आगे जाके “सफल” होती है ….जिंदगी यही पाठ आपको सिखाती रहेगी जब तक आप जिन्दा हैं ..तो तैयार रहिये …………जब आप “वहाँ” होंगे तो “यहाँ” आने का स्वप्न देखेंगे …जब “यहाँ” पहुँच जायेगे तो अगले “वहाँ” को देखेंगे ..आपको अगला वहाँ पसंद आएगा….जिंदगी का सार यही तो है ….विकास का रास्ता है यह …….प्रयास कीजिये ….
आपको तब तक प्यार अथवा घृणा का एहसास नहीं होता जब तक अगला आपको रिफ्लेक्ट न करे ….मंत्र है याद रखिये …आपके पास सभी “संसाधन” उपलब्ध है जो आपको “वहाँ” पहुँचने के लिए चाहिए ..अब आप उन सभी संसाधनो का उपयोग कैसे करते है यह choice आपका है ….. और अंत में आपके सभी जिंदगी के सवालों का जवाब आप के ही पास है …आपके अंदर ही है ….बस आपको देखना है …सुनना है …और उस पर विश्वास करना है …एन्जॉय योर सक्सेस …………

Please generate and paste your ad code here. If left empty, the ad location will be highlighted on your blog pages with a reminder to enter your code.

Santosh Pandey

Announcement List
Next Blog next Sunday .............enjoy

2 comments

  • You’ve made some decent points there. I looked on the internet for additional information about the issue and found most individuals will go along with your views on this site.

    Reply
  • Nandini Rai

    This is true …. we just have to search

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

All original content on these pages is fingerprinted and certified by Digiprove