Seven ways to motivation :प्रेरणा के लिए सात उपाय

दोस्तों ,

प्रत्येक सफल व्यक्ति खुद प्रेरित होता है अर्थात सेल्फ मोटिवेटेड ..आज जानते हैं इसी के बारे में

प्रत्येक Training  या Personal Development के क्लास में मोटिवेशन का पाठ पढ़ाया जाता है ,हर  गुरु आपको Motivation के लिए तरीके बताते हैं और सीखाते हैं ….

मैं आपका दोस्त आपको कुछ छोटे तरीके या उपाय बताता हूँ जिनकी मदद से आप self-motivated  हो जायेंगेअपने कॉर्पोरेट एक्सपीरियंस में मैं कई ट्रेंनिंग का हिस्सा रहा हूँ जहाँ ट्रैनर आपको मोटीवेट करता है और उस कॉमन गोल को पाने में आपकी मदद करता है जिस कॉर्पोरेट या कंपनी का वह हिस्सा है ….

यहाँ आपको मैं बताऊंगा कि अपने द्वारा सेट किये हुए खुद के  लक्ष्य को कैसे प्राप्त करें …..

आपने कभी जाने कि कोशिश कि है कि आखिर मोटिवेशन किस बला का नाम है ……..हा हा हा  ?   

संक्षेप में Motivation अर्थात प्रेरणा वह कार्यप्रणाली है जो आपको आपके बनाये हुए गोल को पाने में आपकी Help करे  यह कुछ भी हो सकता हैआपको कहीं भी ,कभी भी ,किसी से भी ,किसी तरह भी प्रेरणा मिल सकती है आपको अपना लक्ष्य प्राप्त करने के लिएयह वही वस्तु है  जो आपको प्रेरित करती है catalyst  कि तरह ….मेरी तरह Chemistry के student जानते हैं catalyst  क्या होता है

व्यापक रूप से अर्थ बताते हुए हम जानने कि कोशिश करते हैं कि हम हमेशा प्रेरित कैसे रहें ?आइये इसके सात अचूक उपाय बताता हूँ ….

  १)      निर्भीक बने

आपको अपने कम्फर्ट जोन से बाहर आना होगा ….हर मंच का फायदा उठायेंकम से कम भीड़ से अलग दिखना सीखेकिसी भी कार्य से पहले डरे नहींआप रोज टीवी पर Ad देखते होंगे डर के आगे जीत है ……

  २)      आपको क्या चाहिए और क्यूँ

सबसे पहले पता लगायें ..इस बारे में सोचेंआपका लक्ष्य क्या है ?आपको एक्चुअली क्या चाहिए और क्यूँ चाहिए ?

यह सवाल जब तक अनुत्तरित रहेगा आप भटकते रहेंगे …..अतः इस सवाल का उत्तर आपको ही देना है और जितनी जल्दी हो सके

 ) प्लान बनाइये

आप को जो भी चाहिए उसको प्राप्त करने के लिए आपको प्लान बनाना होगाकुछ लॉन्ग टर्म प्लान कुछ शॉर्ट टर्म प्लान ….यही प्लान बनाना और इसको जानना motivation  है  ..आप किस तरह उस लक्ष्य को पाएंगे उसका Raod  map …..

)Failure  से डरना नहीं

जब आप Failure से डरने लगेंगे तब आपके मन में  hesitation  आएगा ..यह गम्भीर बीमारी है इसको पनपने दें….आपको यह रोकेगा ..आप के लक्ष्य पाने कि राह का रोड़ा बन जायेगाडरे नहीं ….सभी महान लोंगो कि जीवनी पढ़ लीजिये आपको पता चलेगा कि बिना Failure हुए कोई महान बना ही नहीं ….यह तो मात्र सीढ़ी हैएक एक्सपेरियन्स है यह जानने का कि अमुक कार्य किस तरह करें या किस तरह करेंबस

) बुरे वक़्त से लड़ जाओ

 बुरा वक़्त हर इंसान के जीवन में आता हैआपका mind  set यह तय करता है कि आपका कितना बुरा हुआकिस तरह सेकितनी गहराई तकआप को सोचना होगा किस तरह उस बुरे वक़्त से बाहर कितनी जल्दी निकलें और फिर अपने सफल होने कि राह में आगे बढ़ जाएँ ….यही तो motivation  है  .   

) Evaluate  करो

प्रत्येक कार्य के बाद उसका evaluation जरुर करेंआप Fail हो जाएँ तो evaluate करें कि क्यूँ फ़ैल हुए ,क्या कारण रहा ?

same  गलतिया बार दुहरायें

उसी तरह success  को भी evaluation  कि आवश्यकता होती है यह भूलेंउसी तरह इस प्रक्रिया को भी बार करें हर बार करें …..

 आखिरी रामबाण

) एक्शन जरुरी है

 उपरोक्त सारे तरीके /उपाय तभी कारगर साबित होंगे जब आप एक्शन में होएक्ट करेंबिना किये कुछ भी हासिल होगाउठो इस सातवे तरीके से बाकी के छह तरीके /उपाय करो …..आपकी जय होगी …..Enjoy  your  success 

  Santosh Pandey

Please generate and paste your ad code here. If left empty, the ad location will be highlighted on your blog pages with a reminder to enter your code.

     

Announcement List
Dear Friends , Next Blog coming soon ...

2 comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

All original content on these pages is fingerprinted and certified by Digiprove