Assam NRC Final Draft List 2018 Released: Here is how you can check your name online

Assam NRC Final Draft List 2018 Released: Here is how you can check your name online

दोस्तों , आज जानने के लिए लाया हूँ NRC असम यानि नेशनल रजिस्टर ऑफ़ सिटीजन्स , बड़ा ही सराहनीय कदम है सरकार का …अपने देश के नागरिको के अधिकारों की रक्षा और सीमा की सुरक्षा का मामला है ये …घुसपैठिये किसी भी देश के लिए खतरनाक होते है ..दुनिया के सभी देश अपने अपने सीमा का अंदर ये अवैध घुसपैठियों को रोककर अपने देश की रक्षा करते है ..लगभग सभी देशों में घुसपैठियों को गोली मार दी जाती है या आजीवन जेलों के अंदर ठूस दिया जाता है …हमारे देश में भी हम इन घसपैठियों से परेशान हैं ..हर जगह अब ये दिखाई देने लगे हैं ..

पहले सीमावर्ती स्थानों में ये घुस जाते हैं या चंद गद्दारों द्वारा इन्हे घुसा दिया जाता है फिर ये देश के अंदुरुनी सुरक्षित स्थानों में चले जाते हैं या इन्हे बसा दिया जाता है ..जो बाद में वोट बैंक की राजनीती का हिस्सा बन जाते हैं फिर नासूर …..

इन्ही अनवांटेड लोगों से अपने देश की सुरक्षा के लिए लाया गया है NRC.

असम के नेशनल रजिस्टर ऑफ नागरिकों (एनआरसी) का अंतिम मसौदा सोमवार को प्रकाशित हुआ था। एनआरसी की अंतिम सूची में 40 लाख लोगों के नाम शामिल नहीं हैं। 3.2 9 करोड़ ने एनआरसी के लिए अपने आवेदन भरे थे, 2.89 करोड़ ड्राफ्ट सूची में उनके नाम पाए गए। एनआरसी मुद्दे लोकसभा और राज्यसभा दोनों में उठाया गया था क्योंकि विपक्ष ने इस कदम के विरोध में विरोध किया था। कोई भी जो 24 मार्च, 1 9 71 को चुनावी रोल में पाया गया है, या ऐसे नागरिकों के वंशज कौन हैं, अद्यतन एनआरसी में शामिल होने के पात्र हैं।

एसएमएस द्वारा अपना एनआरसी असम ड्राफ्ट देखने के लिए, एआरएन स्पेस एआरएन नंबर टाइप करें और इसे 9765556555 पर भेजें। आप इन टोल-फ्री नंबर 15107 (असम से) या 18003453762 (असम के बाहर) भी कॉल कर सकते हैं।

आप आधिकारिक सूची में अपना नाम कैसे देख सकते हैं:
सबसे पहले, आधिकारिक वेबसाइट- http://www.assam.gov.in पर लॉग ऑन करें।

फिर ‘पूर्ण ड्राफ्ट एनआरसी’ अनुभाग पर जाएं और अनुभाग में नीचे दिए गए किसी भी लिंक का चयन करें।

चयन पर, एक नया टैब खुल जाएगा जिसके लिए आवेदकों को आवेदन रसीद संख्या (एआरएन) भरने की आवश्यकता होती है (आपका एआरएन नंबर एनआरसी फॉर्म के सामने वाले पृष्ठ पर मुद्रित होता है)। फिर कैप्चा दर्ज करें और खोज बटन पर क्लिक करें।

पूर्ण एनआरसी ड्राफ्ट स्क्रीन पर प्रदर्शित किया जाएगा।

असम की तर्ज पर पुरे देश में ये मसौदा लाना चाहिए जिससे इस कैंसर से देश की रक्षा पूर्ण रूप से हो सके ..ये घुसपैठिये जिस राज्य में जाते हैं वे वहां के सुविधाओं जिन पर उस राज्य के नागरिकों का अधिकार होना चाहिए उस पर धीरे धीरे कब्ज़ा जमा लेते हैं ..इनका खर्च भी हमारे टैक्स देने वाले नागरिकों को उठाना पड़ता है …और तो और आतंकवाद और अपराध पनपाने में इनका हाथ होता है जो देश की शांति और भाईचारे को खतम करके देश का नुकसान करते हैं …इस पर भी कई कतिपय वोटबैंक की राजनीती करने वालों ने विरोध करना शुरू कर दिया है ..किन्तु हमे भारतीय होने के नाते इस कदम पर सरकार के साथ होना चाहिए चाहे वो सरकार किसी की भी हो ….

Announcement List

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *