Daily Routine for Great Success : महान सफलता के लिए दैनिक दिनचर्या

दोस्तों ,

आज मैंने सोचा क्यूँ न आपको उन महान व्यक्तियो कि दिनचर्या को बताऊँ जिनको आप खुद पर प्रयोग करके अपने आप को भी उन जैसा महान बना सकते हैं ….तो आइये संक्षेप में आपको रुबरु कराता हूँ….महान लोग वास्तव में हम जैसे ही होते हैं परन्तु उनके कार्य विशेष तरीकों से होते है या वो कार्यों को एक विशेष तरीके से करते हैं ..

यह कोरी कल्पना नहीं है बल्कि हकीकत है आप भी इस दिनचर्या का पालन कीजिये और देखिये आप भी महान कैसे बन जाते हैं ,किस तरह आप आसानी से सफल हो जाते है ….

  १)      सुबह जल्दी उठना

   इसे अपनी आदत में शुमार कीजिये देखिये किस प्रकार आपकी सुबह आपको कितना सारा वक़्त देती है ,कितना सारा कार्य आप सुबह -२ करके अपने दिन कि शुरुआत और बेहतर ढंग से कर पाते हैं ,आपको इतना वक़्त मिल जाता है कि आप रोजमर्रा के कार्यों के अलावा अपनी दिनचर्या planned  way  में कर सकते है  .

    २)      पानी पीजिये-

        – सुबह उठकर पानी पीने से रात भर शरीर द्वारा एकत्रित किया गया विषाक्त पदार्थ बहार निकल जाता है जिससे पाचन तंत्र ठीक रह जाता हैजिससे आप को दिन भर ऊर्जा मिलती रहेगी  ..

     ३)      सुबह कि दिनचर्या बनाइये

प्रत्येक सुबह एक ही तरह से शुरुआत कीजिये जैसे उठते ही एक गिलास पानी पीजिये ,घूमने निकल जाइये ,व्यायाम कीजिये ,अखबार पढ़िए इत्यादि ….प्रत्येक कार्य के लिए टाइम फिक्स कीजिये और प्रत्येक सुबह कि शुरुआत एक ही ढंग से कीजिये ….आदत बन जायेगी इस तरह फिर आपको ये सब करना नहीं पड़ेगा खुद होता जायेगा ……

४)      कल्पना कीजिये-

प्रत्येक कार्य को एक बार कल्पना में कीजिये अर्थात कार्यों को visualize  कीजिये ..कल्पना कीजिये कि आप उस कार्य को कर रहे हैंकिस तरह कर रहे हैंक्या परेशानियां सकती हैं ,किस तरह उनसे निपटा जा सकता है इत्यादिआप देखेंगे एक बार कल्पना में कार्य करने के बाद वास्तविक कार्य कितना आसान हो जाता है या प्रतीत होने लगता है …..

५)अपनी प्राथमिकताएं तय कीजिये

अपने कार्यों कि सूची बनाइये ,अपने भविष्य निर्माण के लिए भी अपनी प्राथमिकताएं सेट कीजिये , कौन से कार्य पहले होने चाहिए या कौन से कार्य को पहले करना है ,कौन से वक़्त पर कौन सा कार्य करना चाहिए इत्यादिइस तरह आप अपने मार्ग को व्यवस्थित  कर पाएंगे ….

६)      एक वक़्त में एक कार्य

आप केवल एक बार में एक कार्य पर ध्यान केंद्रित कीजियेहालाकि इस दौर में मल्टीटास्किंग जरुरी हो गया है फिर भी आप यह फार्मूला अपनाइये क्यूंकि आप इस तरह Quality दे पाएंगे …..दुनिया में सिर्फ दो प्रतिशत ही मल्टीटास्किंग करने वाले लोग सफल होते हैं अतः आप ९८ प्रतिशत वाली राह चुनिए आपके सफलता कि गारंटी बढ़ जायेगी …..

७)      सफाई

इससे यहाँ तात्पर्य यह है कि आप पिछली बातें भूल जाइये ,दिमाग को Fresh रखिये ,घर भी साफ़ कीजिएजिन वस्तुओं का आपने अब तक उपयोग नहीं किया है वो बेकार हैं आपके लिएउन्हें बेच डालिये ….पुराने सोच कि सफाईपुराने वस्तुओं कि सफाईपुरानी failure  कि सफाई ….इस Exercise को दुहराते रहिये जब तक आप सफल हो जाएँआप हमेशा नए ताजे बने रहेंगे …..

८)      शाम कि दिनचर्या भी जरुरी है

जिस तरह आपने सुबह कि शुरुआत कि थीठीक उसी तरह Bed  पर जाने से पहले कि दिनचर्या बनाइयेमसलन books  पढ़िए  Facebook ,ईमेल चेक कीजियेब्लॉग लिखिएइत्यादि ..इस तरह आप दिन के भूले हुए अथवा अधूरे कार्यों कि सूची भी बना सकते हैं इसप्रकार आप कल कि रुपरेखा भी तैयार कर पाएंगे आज ही ….

      सिर्फ इतना ही करने मात्र से आप सफल होने को तैयार हैं ….यही आदत बनाइयेयही वो दिनचर्या है जिसकी मदद लेकर आप उन महान व्यक्तियों में शामिल हो सकते है ….तो तैयार हो जाइये सफलता प्राप्त करने के लिए …..आज ही से शुरुआत कीजिये और मुझे मेल कीजिये अपने विचार बताइये अपने एक्सपीरियंस बताइये  pandey.santosh05 @gmail .com

santosh

Santosh Pandey

Announcement List
जब मैं आपको जगाना चाहता हूँ तब आप सो रहे हैं ...उठिए ,पढ़िए ,आगे बढ़िए ..और अपने एक्सपीरियंस शेयर कीजिये pandey.santosh05@gmail.com

7 thoughts on “Daily Routine for Great Success : महान सफलता के लिए दैनिक दिनचर्या

  • February , 2014 at 11:46 pm
    Permalink

    संतोष भाई, सकारात्मक सोच रखने के लिए बधाई, सबके कल्याणार्थ जनहित की बातों से सदैव प्रेरित करना सराहनीय है।

    Reply
  • June , 2014 at 5:50 pm
    Permalink

    Accha Gyan prapt hua ,,,,,,,me bhi prayas karunga.
    dhanyawad

    Reply
  • November , 2015 at 2:27 pm
    Permalink

    Please Some Activity

    Reply
  • November , 2015 at 2:30 pm
    Permalink

    I Am Vishnu And Get This Shedule Very Happy

    Reply
  • July , 2016 at 2:59 pm
    Permalink

    बहूत अच्छा

    Reply
  • Pingback:Hard work | Santosh Pandey.in

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *