Three Advise :तीन सलाह

Three Advise

दोस्तों ,हमेशा  कि तरह आज भी आपके लिए एक कहानी लाया हूँ  देखते है आज क्या सीख पातें है हम

  एक व्यापारी के पास एक तोता था ,जिससे वह बहुत प्यार करता था ..वह उसे चांदी के पिजड़े में रखता था ..तोते के कुछ भी मागने पर वह ला देता था

फिर भी वह तोता हमेशा उस व्यापारी से कहता .मुझे आजाद कर दोव्यापारी हर बार यही कहताकुछ और मांग लो “….

एक दिन तोते ने कहा यदि तुम आज मुझे आजाद कर दो तो मैं तुम्हे तीन सलाह दूंगा जो बहुत बहुमूल्य होंगे तुम्हारे लिए

व्यापारी ने मन में सोचा यदि इसकी सलाह इतनी बहुमूल्य है ,मुझे ढेर सारा पैसा मिल सकता है  तो ऐसा कर सकता हूँ ..

और उसने पिजड़े का दरवाजा खोल दिया तोते को जैसे जिंदगी मिल गयी हो ..तुरंत फुर्ती से बाहर आके व्यापारी के पास बैठ गया ..और बोला

मेरी पहली सलाह है कि- धन के खो जाने या नुकसान पर कभी दुखी मत होना .

व्यापारी ने सोचा मामूली सी सलाह है फिर भी कुछ नहीं बोला ….तभी तोता उड़कर उसकी छत पर जा बैठा ….और जोर से बोला

 मेरी दूसरी सलाह है- कही गयी हर चीज पर विश्वास मत करना…..

इसपर व्यापारी ने नाराज होते हुएकुछ ऐसा बताओ जिसको मैं नहीं जानता हूँ ….?

तोता बोला क्या तुम नहीं जानते हो कि मेरे पेट में दो अमूल्य हीरें हैं ..यह सुनते ही व्यापारी चिल्लायाOh My God दो अमूल्य हीरे ..मैं कितना बेवकूफ हूँ  मैंने तुम्हे छोड़ दिया मुझे जिंदगी भर इस बात का पछतावा रहेगा ……

तोते ने मुस्कुराते हुए कहाक्या तुम मेरी तीसरी सलाह नहीं सुनना चाहते ?

दुखी होते हुए व्यापारी ने कहाये भी सुना दो अब

तोता बोलासुनो ,जब मैंने तुम्हे पहली सलाह दी कि धन का नुकसान होने पर दुखी मत हो ..फिर भी तुम मुझे खोकर दुखी हो रहे हो ..

दूसरी सलाह दी किकही गयी हर चीज पर विश्वास मत करो जबकि तुमने तुरंत विश्वास कर लिया कि मेरे पेट में अमूल्य हीरे हैं क्या मैं जिन्दा रह पाता अगर सचमुच हीरे होते ….

अब मेरी तीसरी सलाह है कि ..सुनो “.सुनना सीखोअपने दिमाग से ….सिर्फ अपने कानो से मत सुनो ….इतना  बोलकर .तोता उस व्यापारी को छोड़ कर दूर कहीं उड़ गया …..

दोस्तों , इस कहानी को पढ़ने के बाद क्या सीखा आपने मुझे जरुर लिखेमेरा ईमेल है …info@santoshpandey.in   

santosh

Santosh Pandey

One thought on “Three Advise :तीन सलाह

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *